घर पर धागे से मस्सा काटने का प्राचीन तरीका

घर पर धागे से मस्सा काटने का प्राचीन तरीका

दोस्तों आज मैं बात करूंगा कि घर पर धागे से मस्से को कैसे काटा जाता है

जैसे कि आप सभी को पता है हमारे पूरे शरीर में जगह जगह मस्से हो जाते हैं ये मस्से हमारे पूरे शरीर में कहीं भी हो सकते हैं जैसे कि आपको पता ही होगा ज्यादातर जो मस्से होते हैं वह ऐसी जगह पर होते हैं जहां पर पसीना आता है

जैसे कि मैं बात करूंगा गर्दन की क्योंकि मेरी गर्दन पर छोटे-छोटे 2/3 मस्से निकल गए थे एक मेरे पेट पर भी निकला हुआ था जो लगभग चने के दाने के बराबर था और जो मेरी गर्दन पर दो-तीन मस्से निकले थे वह लगभग चीनी के दाने के बराबर थे

अब मैंने इन मस्सों का कोई इलाज नहीं किया मैं किसी डॉक्टर के पास भी नहीं गया और ना ही मैंने किसी को बताया बस मेरे घर पर पता था कि मेरी गर्दन पर दो-तीन मस्से निकल गए हैं और मेरे घरवाले बोला करते थे कि इनको नाखून से उखाड़ कर निकाल दे

लेकिन मैंने ऐसा नहीं किया क्योंकि मैं डर गया था कि कहीं मुझे कोई इंफेक्शन ना हो जाए एक मेरे पेट पर भी था जो मैंने अपने घरवालों को नहीं बताया था एक दिन मैंने किसी की गर्दन पर एक मास्सा देखा और उस पर कुछ बंधा हुआ देखा

जब मैंने उससे पूछा कि आपने अपनी गर्दन के मस्से पर यह क्या बांध रखा हुआ है तो उसने बताया कि यह मास्सा काफी समय से मेरी गर्दन पर है किसी ने उसको भी बताया कि जो हमारे घर में धागा होता है जो हम नॉर्मल इस्तेमाल करते हैं घर के कपड़ों को सिलने के लिए घर के फटे कपड़ों को सिलने के लिए

उसी धागे को रात को गीली हल्दी में भिगोकर रख दें और सुबह उस धागे को अपने मस्से में बांध लें जहां से वह मस्सा उगना शुरू हुआ है बिल्कुल नीचे की ओर उस धागे को बांधना है ऐसा ही उस भाई ने भी किया हुआ था उसको भी किसी ने बताया हुआ था तो यह आइडिया मुझे वहां से मिला

जब मैंने उससे पूछा कि ऐसा करने पर क्या मुझे कोई इंफेक्शन तो नहीं होगा तो उस भाई ने मुझे बताया कि ऐसा बिल्कुल भी नहीं होगा क्योंकि वह पहले भी चार-पांच मस्से कुछ इसी तरह से काट चुका है तो फिर मैंने भी यही नुस्खा अपनाया

मैं अपने घर पर आया और मैंने भी धागे के तीन चार टुकड़े कर लिए लगभग एक फीट के और उनको एक कटोरी में हल्दी लेकर उसमें थोड़ा पानी लेकर हल्दी को गिला किया फिर उनको गीली हल्दी में डाल कर उनको रख दिया

मैंने तीन धागे काटे थे लगभग एक फीट के बराबर अब सुबह उठकर मैंने एक धागा लिया जो गीली हल्दी में भीगा हुआ था उसको मैंने अपने गर्दन पर जो मेरी गर्दन पर मास्सा था उस पर मैंने धागा बांध दिया जहां से वह उगना शुरू हुआ था

मतलब धागा बिल्कुल नीचे की ओर बांधना है ऊपर की ओर नहीं क्योंकि हमें इसको जड़ से काटना है इसीलिए उस धागे को बिल्कुल नीचे बांधना है जो नीचे वाला हिस्सा होता है वहां पर उसको बांधना है

लेकिन दोस्तों ध्यान रहे आप के घर में जो धागे वाली रील होती है या फिर अगर नहीं भी है तो बाजार से लेकर आये जो नॉर्मली पांच या दस रूपए की आ जाती है उस धागे की रील से एक एक फ़ीट का धागा तोड़ ले ऐसे ऐसे 3 धागे तोड़कर उसे रात को हल्दी लगाकर छोड़ दे

और सुबह उठकर उसे अपने मस्से पर बाँध ले लेकिन दोस्तों एक बात का ध्यान रखना कि जब आप सुबह उस धागे को अपने मस्से पर बंधोगे तो 24 घंटे के बाद आप दूसरा धागा फिर से उसी के ऊपर ही बांध ले और अगले दिन सुबह उठकर फिर से वह दूसरा धागा जो हल्दी लगा हुआ है उसको उसी के ऊपर दोबारा बांध ले फिर तीसरे दिन भी ऐसे ही करना है आपको तीसरा धागा फिर से उसी के ऊपर बांध ले

आप एक काम भी कर सकते हैं अगर आपको पहला वाला धागा निकालना है तो आप उसको छोटी सी किसी कैंची से जो छोटी वाली फोल्डिंग कैंची होती है उसका इस्तेमाल कर सकते हैं उस धागे को काटने के लिए

क्योंकि उस धागे को किसी ब्लेड या चाकू से ना काटियेगा क्योंकि गलती से अगर वह आपके मस्से पर लग गया तो इंफेक्शन का खतरा भी हो सकता है क्योंकि जैसे जैसे मैंने किया था मैं वैसे ही आपको बता रहा हूं मैंने धागे को काटने के लिए छोटी वाली कैंची का इस्तेमाल किया था

मेरी गर्दन पर 3 मस्से निकले हुए थे और एक पेट पर निकला हुआ था जो मास्सा गर्दन पर था वह मास्सा 3 दिन में कट चूका था लेकिन जो पेट पर था वह चने के बराबर था इसीलिए उसको काटने में मुझे लगभग 2 हफ्तों का टाइम लगा

क्योंकि दोस्तों यह निर्भर करता है की आपके मस्से का साइज कितना है जो मास्सा चीनी के दाने के बराबर होता है वह तो तीन-चार दिन में कट जाता है जो मस्सा चने के बराबर होता है उसे कटने में 2 हफ्ते लग जाते हैं

अगर उससे भी बड़ा मास्सा है तो उसे काटने में 1 महीने का समय भी लग जाता है इससे ज्यादा समय किसी भी मस्से में नहीं लगता क्योंकि मास्सा इतना बड़ा भी नहीं होता और अगर होता है तो हम उसे होने भी नहीं देंगे उसे समय से पहले ही काट देंगे या कटवा देंगे तो दोस्तों यह तरीका है घर पर ही मस्से काटने का

धागे मैं हल्दी लगाकर ही मास्सा क्यों कटा जाता है

धागे में हल्दी इसीलिए लगाई जाती है ताकि उस धागे से हमें इंफेक्शन ना हो क्योंकि हल्दी एंटीबायोटिक होती है इसीलिए वह इंफेक्शन से बचाने का काम करती है और हल्दी कीड़े भी नहीं होने देती मेरा मतलब है की हल्दी मैं ऐसी ऐसी चीजे होती है जो कीड़े तक को मार देती है क्योंकि ये गरम होती है

हल्दी वाले धागे से मास्सा काटने का नुस्खा काम कैसे करता है

दोस्तों मैं आपको बता दूं जब आप धागे को मस्से में बांधते हैं तो मास्सा जो होता है उसमें हड्डी तो होती नहीं वह सिर्फ मांस का बना होता है उसमें खून भी होता है जब आप उसको अपने हाथ से भींचोगे या उसको अपने नाखून से काटोगे तो उस में दर्द होता है जलन होती है तो जाहिर सी बात है की वो मॉस का बना होता है और उसमे खून भी होता है

जब हम मस्से को धागे से बाँध देते हैं तो उसमे खून का संचार होना बंद हो जाता है मतलब खून का आना जाना बंद हो जाता है इसीलिए वो सूखने लगता है मतलब जब हम अपने किसी अंग को किसी धागे से बाँध देते हैं तो उसमे खून का आना जाना बंद होने लगता है और वो हिस्सा सूखने लगता है और वो हिस्सा पकने भी लगता है

इसीलिए मास्सा भी पकने लगता है उसमे हलकी हलकी मवाद जैसी बनने लगती है इसीलिए आपको डरना नहीं है जब आपके मस्से में मवाद बनने लगे तो आप डरियेगा मत क्योंकि मास्सा पकने पर मवाद ही बनाता है बाद में वो अपने आप सूख जाता है बस सूखने के बाद वो अपने आप टूट जाता है

डॉक्टर से मस्सा कटवाने का खर्चा कितना होता है

दोस्तों अगर आप अपने मस्से को डॉक्टर से कटवाते हैं तो डॉक्टर कितना खर्चा आपसे लेगा

देखो दोस्तों डॉक्टर मस्से को दो-तीन तरह से काटता है पहला तरीका उसके पास कोई ऐसी चीज होती है जिससे वह दो तीन सेकंड में उससे आपके मस्से को काट देता है मतलब जैसे कोई काटने वाली चीज मतलब लोहे की नहीं होती शायद किसी और चीज की बनी होती है जिससे वह मस्से को काट देता है

दूसरा तरीका वह लेज़र से आपके मस्से को काटता है जिसमें से कुछ चिंगारी निकलेगी तो उसी से वह मस्से को काटेगा

तीसरा तरीका कि वह आपके मस्से में इंजेक्शन लगाएगा और उस इंजेक्शन से कोई दवाई उसमें भर देगा ताकि वह मस्सा थोड़ा बड़ा हो जाए उसके बाद वह आपके मस्से में कोई रबड़ बैंड जैसी चीज बांध देगा जो अक्सर मस्से काटने के लिए ही डॉक्टरों के पास होती है

बस यह दो-तीन तरह से डॉक्टर आपके मस्से को काटेगा बदले में 1 मास्सा काटने का वह आपसे ₹500 या ₹1000 तक भी चार्ज कर सकता है जो कि ज्यादा है काफी ज्यादा है इसीलिए दोस्तों आप अपने मस्से को खुद ही काटो डॉक्टर के पास जाना बेकार वाली बात है

अगर आपके पास बहुत सारा पैसा है तो आप डॉक्टर के पास जा सकते हो वरना आप घर पर ही इसको काट सकते हो मैंने काटने का तरीका आपको बता दिया है कोई इन्फेक्शन नहीं होगा कोई डरने वाली बात नहीं है

बस थोड़ी सी मवाद उसमें बन जाती है जो बाद में अपने आप ही सुख भी जाती है और मस्से को आप अपने हाथ से मत उखाड़ना इसको अपने आप ही टूटने देना इसको कहते हैं मस्से का झड़ जाना मतलब जब मास्सा टूटने लगता है तो इसको हम बोलते हैं कि मास्सा झड़ गया तो यह तरीका होता है मस्सा काटने का

बाद में धागे को निकालने के लिए कैंची का भी इस्तेमाल कर सकते हैं अगर आप धागा काटना चाहो तो आप छोटी वाली फोल्डिंग कैंची से धागे को काट कर निकाल सकते हो वरना बाद में वह भी अपने आप निकल जाएगा और जरूरी भी नहीं है कि धागे को कैंची से ही काटा जाए क्योंकि वह अपने आप भी टूटकर निकल जाता है धन्यवाद

मच्छर भगाने का आयुर्वेदिक तरीका जो आज से पहले कभी नहीं सुना होगा

Immunity बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ Boosting Foods

Leave a Reply